• +91 0771-2246440
  • +91 0788-2242591
  • premprakashpandeyji@gmail.com

रायपुर : साढ़े तीन हजार से अधिक विद्यार्थियों को 93 करोड़ रूपए के शिक्षा ऋण स्वीकृत



राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के युवाओं को उच्च शिक्षा के लिए एक प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण सुविधा दी जा रही है। इसके लिए मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा ऋण ब्याज अनुदान योजना का संचालन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली इस योजना के तहत वर्ष 2015-16 में 3 हजार 627 छात्रों को 92 करोड़ 92 लाख रूपए का उच्च शिक्षा ऋण उपलब्ध कराया गया है, जिसमें 588 अनुसूचित जाति के बच्चों को 15 करोड़ 40 लाख रूपए, 296 अनुसूचित जनजाति के बच्चों को 7 करोड़ 30 लाख रूपए, 1251 पिछड़ा वर्ग के बच्चों को 30 करोड़ 60 लाख रूपए और 1492 अन्य वर्ग के छात्रां को 39 करोड़ 63 लाख रूए का शिक्षा ऋण उपलब्ध कराया गया है। उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने यहां बताया कि तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा ब्याज अनुदान योजना के अन्तर्गत दो लाख रूपए वार्षिक तक पारिवारिक आय वाले छात्रों को वित्तीय वर्ष 2014-15 में शिक्षा ऋण ब्याज दर को चार प्रतिशत से घटाकर एक प्रतिशत किया गया है। साथ ही नक्सल पीडित जिलों के छात्र-छात्राओं को ब्याज मुक्त शिक्षा ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री पाण्डेय ने बताया कि मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा ऋण ब्याज अनुदान योजना प्रदेश में 29 नवम्बर 2012 से लागू की गई है। इस योजना के लिए केनरा बैंक को नोडल बैंक अधिकृत किया गया है।