• +91 0771-2246440
  • +91 0788-2242591
  • premprakashpandeyji@gmail.com

About Prem Prakash Pandey

Cabinet Minister Chhattisgarh







व्यक्तिगत प्रोफाइल

पिता स्वर्गीय श्री आर.आर. पाण्डेय
माता स्वर्गीय श्रीमती गिरिजा देवी पाण्डेय
पत्नी श्रीमती कृष्णावती पाण्डेय
जन्म तिथि 8 मार्च, 1958
वैवाहिक स्थिति     विवाहित
संतान 3
जन्म स्थान ग्राम भुरवार, जिला देवरिया (उ.प्र.)
शिक्षा स्नातकोत्तर एम.एस.सी. (पूर्व) गणित, साईंस कॉलेज, दुर्ग
स्नातक बी.एस.सी. (गणित)
विद्यालय (12वीं) भिलाई विद्यालय, सेक्टर -2



Prem Prakash Pandey in his office at mahanadi bhawan Naya Raipur

Prem Prakash Pandey

Cabinet Minister Chhattisgrah

Minister of Revenue & Rehabilitation, Higher Education, Technical Education, Man Power Planning, Science & Technology

Prem Prakash Pandey is a BJP Member of the Legislative Assembly from Bhilai Nagar in Chhattisgarh. He has served as the Speaker of the Legislative Assembly of Chhattisgarh from December 2003 to January 2009. He was appointed as a Cabinet Minister in the Government of Chhattisgarh headed by Dr. Raman Singh. He is minister of Rehabilitation and Disaster Management, Higher Education, Skill Development, Science and Technology and Technical education and Employment



मेरे बारे में

मैं खुद को एक सामान्य समाज सेवक एवं राजनीतिज्ञ मानता हूँ । मैं गर्वित हूँ कि औद्योगिक भारत के हृदयस्थल - भिलाई में मेरी परवरिश हुई । भाजपा के राष्ट्र निर्माण की विचारधारा पर मुझे पूरा भरोसा है और शुरुआती दिनों से ही मैं भाजपा से जुड़े होने पर गर्व महसूस करता हूँ। फिलहाल मैं भारतीय जनता मजदूर महा संघ (बी.जे.एम.एम.) के अंतर्गत भाजपा के राष्ट्र निर्माण कार्य से जुड़ा हूँ। मेरी राजनीतिक तथा सामाजिक जीवन की शुरुवात सन 1978 में हुई जब मैं स्नातक कर रहा था, तब अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा अध्यक्ष चुना गया। राष्ट्र निर्माण तथा समाज के कल्याण के लिए कभी न खत्म होने वाली मेरी चाह और उत्साह ने मुझे यह मौका दिया कि मैं 1979 में साइंस कॉलेज में बतौर अध्यक्ष तथा पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय में सचिव पद हेतु चुना गया। इस तरह मेरा सफर शुरू हुआ और आने वाले कुछ सालों में मुझे यह अवसर प्राप्त हुआ कि मैं दुर्ग जिले से सन 1987 में भाजपा का महासचिव बना। अगला मुकाम यह हासिल हुआ कि मुझे सन 1990 में अविभाजित मध्यप्रदेश का विधान सभा सदस्य चुना गया। इसके बाद सन 1991 में मुझे पुनः अपने यशस्वी राज्य को बतौर राज्य मंत्री (उच्च शिक्षा तथा कृषि विभाग) सेवाएं प्रदान करने का मौका मिला। 1993 में मुझे राज्य सभा का सदस्य निर्वाचित किया गया तथा 1995 में भाजपा युवा मोर्चा का कार्यकारी सदस्य निर्वाचित किया गया । मेरे कैरियर की सर्वोच्च उपलब्धि थी 22 दिसंबर, 2003 को छत्तीसगढ़ विधान सभा का स्पीकर बनना।

रूचि एवं मनोरंजन : पढ़ना, यात्रा करना।